Saturday, 10 May 2014

मीना को रात में चोदा - Mina Ko Rat Me Choda

मीना को रात में चोदा - Mina Ko Rat Me Choda
आपने पिछली कहानी में पढ़ा कि कैसे मीना ने मेरे घर वालों की अनुपस्थिति में दिन में मुझ से चुदवाया।

अब आगे :

हम दोनों थक कर नंगे ही पड़े थे कि मीना के पास उसके बेटे का फ़ोन आ गया इसलिए उसको जाना पड़ा।

बाद में उसका फ़ोन आया कि उसका बेटा रात को घर पर नहीं होगा और पूछा कि मेरे घर वाले कब आयेंगे?

मेरे घर वाले भी रात को नहीं आने वाले थे तो मैंने उसको बता दिया।

इस पर मीना बोलने लगी- तो रात को मैं तेरे घर आ जाती हूँ, खूब मजे करेंगे।

मैं भी खुश हो गया और हाँ बोल दी।

फिर मैं कंडोम लेने बाजार चला गया और घर आकर रात होने का इंतज़ार करने लगा।

रात को मीना ने मेरे साथ खाना खाया मेरे ही घर पर ही और फिर हम सेक्सी बातें करने लगे।

मैंने मीना से पूछा- जब तेरा तलाक हुआ था तब तू काफी जवान थी, तो फिर तूने अपनी अन्तर्वासना कैसे बुझाई?

मीना : तलाक के बाद मेरा एहमद के साथ चक्कर चल गया था, वो बहुत ही सुन्दर था, उसी से चुदाती थी। मगर वो सिर्फ चूत और गाण्ड ही पेलता था, तेरी तरह मुँह में नहीं देता था अपना लण्ड, और मेरी चूत भी कभी नहीं चाटी उसने ! तूने तो अलग मजा दे दिया मुझे !

मैं : अरे मीना, मजा तो अब रात को दूँगा मैं तेरे को ! चलने के भी काबिल नहीं छोड़ूगा।

मीना : हाँ तो करो ना? मुहूर्त निकलना है क्या?

मैंने तुरंत चुम्बन करना चालू कर दिया उसको। वो भी मेरा साथ देने लगी। उसका गाउन मैंने उतार दिया, उसने अन्दर कुछ भी नहीं पहना था। फिर उसने गोली खाई और मुझे भी खिला दी।

मीना : निक, मुझे तेरा मुंह में लेना बहुत अच्छा लगता है।

और वो मेरा चूसने लगी।

उसका पेट बड़ा है थोड़ा इसलिए 69 की अवस्था में जमा नहीं, थोड़ी देर में ही मेरा लण्ड पानी छोड़ गया। मीना को मजा आ गया।

अभी मेरा पानी निकला था और मीना का काम बाकी था। मैंने उसकी चूत चाटना शुरू किया। मीना क्या सिसकारियाँ भर रही थी, इतना मजा आ रहा था कि मैं आपको बता नहीं सकता !

मीना : सससस….. निक्क्क्क… क्या मज़ा दे रहा है तू…. ससससस…… चाट ले मेरी चूत को….. इतने सालों में पहली बार कोई मेरी चूत चाट रहा है। सश……… क्या मजा आ रहा हीईईई….

पूरे कमरे में मीना की सिसकरियों की गूंज थी !

इतने में उसने पानी छोड़ दिया।

मीना : अब हम को चुदाई के लिए दुबारा तैयार होना पड़ेगा क्योंकि दोनों का पानी निकल गया है।

वैसे उम्र की वजह से मीना को थोड़ी परेशानी होती है चुदाने में, मगर उसके पास जो गोली है उससे वो जवान लड़की से कम नहीं रहती।

मीना : मुझे चुदाई वाली नंगी फिल्म देखनी है निक !

मेरे पास अपने लैपटॉप में फिल्म थी, वो मैंने चला दी। उसको मजा आने लगा।

मैं उसके बोबे चूस रहा था और वो तल्लीन हो गई फिल्म देखने में।

मीना : यार निक, मजा आ रहा है।

और वो मुझे होंठों पर चुम्बन करने लगी, हम दोनों गर्म हो गए तो मैंने कहा- चलो मीना, चुदाई करते हैं।

वो भी तैयार थी, मैंने कंडोम पहन लिया।

मैं : आओ मेरी मीना रानी, आज तेरी चूत को मजा चखाता हूँ।

मीना : निक, मेरी चूत तो कब से उतावली हो रही है ! चोद दे मेरी चूत को !

मैंने मीना की दोनों टांगे चौड़ी की और चूत में अपना लण्ड डाल दिया। उसको थोड़ा-थोड़ा दर्द हो रहा था।

वो सिसकारियाँ भरने लगी और मुझे अपनी ओर खींचने लगी। मैं भी उसको होंठों पर चूमना चाहता था मगर उसका पेट बीच में आता था इसलिए धक्के मारना बन्द करके मैंने उसको चूमा, फिर धक्के मारना चालू कर दिया। उसने मुझे कस कर पकड़ लिया और वो झड़ गई मगर मेरा लण्ड अभी भी अपना काम कर रहा था।

मीना चिल्लाने लगी और मुझे बस बस कहने लगी क्योंकि उसको दर्द होने लगा था। फिर से वो झड़ गई और साथ में मैं भी।

वो मुझसे हांफते हांफते कहने लगी- बहुत मजा आया मेरे निक, मगर थक गई मैं तो !

तुरंत मैंने मीना को दूसरी गोली खिला दी और फ़िए से चूमने लगा उसको !

मेरा लण्ड फिर से तैयार हो गया और मीना पर भी गोली का असर हो गया। फिर से मैंने मीना की चुदाई चालू कर दी, दोनों जोश में थे। इस बार दोनों साथ में झड़े।

अभी भी मीना के चेहरे पर थकान दिख रही थी मगर मैं मानने वाला नहीं था.. मैंने फिर से उसके मुँह में अपना लण्ड दे दिया।

मीना : नहीं निक बस अभी, ऐसे ही नंगे पड़े रहते है। अभी चुदाई नहीं, मैं बहुत थक गई हूँ।

मैं : मीना, बहुत मजा आयेगा. अभी तो सिर्फ दो राउंड हुए है। मैं पहली बार चुदाई कर रहा हूँ, मेरी भी इच्छा है।

और मैंने जबरदस्ती उसको चोदना चालू कर दिया।

वो चिल्लाने लगी- नहीं नहीं !

मगर उसकी नहीं सुनी एक भी मैंने और फिर एकबार चोद दिया उसको।

वो बुरी तरह थक गई थी, वो पानी पीने के लिए उठने लगी तो उससे चला भी नहीं जा रहा था।

मीना : यार निक, तूने तो मुझे आज जम कर चोदा ! मुझसे तो चला भी नहीं जा रहा।

मैं : मुझे तो मजा आ गया डार्लिंग !

मीना : सच निक, मजा तो मुझे भी बहुत आया लेकिन बहुत थक गई हूँ।

मैं : अभी तो मुझे तेरी गाण्ड मारनी है।

मीना : नहीं निक, आज नहीं ! वो फिर कभी मारना, आआज नहीं ! रहम कर मुझ पर !

मैं : हाँ मीना, कोई बात नहीं।

फिर हम दोनों ऐसे ही नंगे सो गए और सुबह उठ कर दोनों ने साथ में शॉवर में स्नान किया और ऊपर ऊपर से ही चूमा चाटी की क्योंकि मीना को दर्द हो रहा था, वो ठीक से चल भी पा रही थी।

मगर वो भी काफी खुश थी और मैं भी !

अभी भी मैं और मीना सप्ताह में कम से कम एक बार चुदाई करते ही है। बाद में मैंने उसकी गाण्ड भी मारी है।

तो ऐसे मैंने मीना को रात में चोदा।

0 comments:

Post a Comment